दक्षिण अमेरिका के प्रमुख मरुस्थल, घास के मैदान और जनजातियाँ (South America major deserts, grasslands and tribes)

5 mins read

अटाकामा मरुस्थल (Atacama Desert)

अटाकामा मरुस्थल, चिली (Chile) और अर्जेंटीना (Argentina) देश की सीमा पर स्थित है, जो एक उष्णकटिबंधीय तटीय मरुस्थल है। अटाकामा मरुस्थल विश्व का सबसे शुष्कतम मरुस्थल है, जिसमें स्थित एरिका (Erica) नगर विश्व का सबसे शुष्कतम स्थान है। एरिका (Erica) नगर को भूतों का टीला (सल्फर नाइट्रेट के कारण) के नाम से भी जाना जाता है।
इस मरूस्थल में सल्फर व नाइट्रेट के भण्डार पाएँ जाते है।
अटाकामा मरुस्थल, विश्व स्तर पर तांबे (Copper) के भंडार की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। यहाँ Iquique के समीप चिक्विमाता (Chuquicamata) तांबा (Copper) खनन का महत्वपूर्ण क्षेत्र है। इसे विश्व की तांबे की राजधानी भी कहाँ जाता है।

पेटागोनिया मरुस्थल (Desert of Patagonia)

पेटागोनिया मरुस्थल, अर्जेन्टीना (Argentina) देश में स्थित एक शीत मरुस्थल है।


घास के मैदान

लानोस (Lanos)
यह घास का मैदान वेनेजुएला (Venezuela) देश में स्थित है, जो एक उष्ण कटिबंधीय घास का मैदान है।

सैल्वास (Sailvas)

यह घास का मैदान ब्राजील (Brazil) देश में विषुवत रेखा के समीप स्थित है। ब्राज़ील में घास के मैदानों को सवाना (Savanna) भी कहा जाता है।
इस क्षेत्र में अत्यधिक मात्रा में रबड़ पाएँ जाते है।

कम्पा (Kampa)

यह घास का मैदान ब्राजील (Brazil) देश में स्थित है, जो एक उष्ण-कटिबंधीय क्षेत्र में स्थित घास का मैदान है।

ग्रान चाको (Gran Chaco)

यह घास का मैदान बोलिविया (Bolivia), पैराग्वे (Paraguay) व अर्जेन्टीना (Argentina) में विस्तृत है, जो एक उष्ण-कटिबंधीय क्षेत्र में स्थित घास का मैदान है।

पम्पास (Pampas)

यह घास का मैदान अर्जेन्टीना (Argentina) देश में स्थित एक शीतोष्ण घास का मैदान है। इस घास के मैदान को अर्जेन्टीना (Argentina) का हदय भी कहा जाता है। गेहूं की खेती हेतु प्रसिद्ध
इस क्षेत्र में रेडंजीना मृदा मिलती है। यहाँ गेहूँ की अर्द्धचंद्राकार पैटी स्थित है।


जनजाति

इक्वेडोर (Ecqador)

ओका जनजाति दक्षिण अमेरिका के इक्वेडोर (Ecqador) देश में निवास करती है।
दक्षिण अमरिका (South America) की सबसे पुरानी सभ्यता माचूपिचू थी। जो पेरू (peru) देश में निवास करती थी।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest from Blog